ALL समाचार आलेख - फ़ीचर रिपोर्ट अनुसन्धान-विकास टेक्नोलॉजी सक्सेस स्टोरी पर्सनालिटीज पुस्तक समीक्षा-नये प्रकाशन प्रश्नोत्तर चौपाल
खेती में आमदनी बढ़ाने के लिए गौआधारित कृषि पद्धति अपनाईए: राजेश डोगरा
November 15, 2019 • डॉ.आर. बी. चौधरी

बीज  एवं कीटनाशक प्रबंधन  विधेयक 2019 का उद्देश्य है कि किसानों को सुरक्षित खेती-बाड़ी के तौर तरीके बताए जाएं और उन्हें कुदरती खेती के लिए अभी प्रेरित किया जाए. इस विषय पर  भारतीय कृषक समाज द्वारा 12 नवंबर 2019 को एक राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसका मुख्य विषय रहा है प्राकृतिक खेती के माध्यम से किसानों की आमदनी बढ़ाई जा  और  रासायनिक उर्वरकों के प्रयोग से भूमि की नष्ट हो रही उर्वरा शक्ति को बचाया जाए. 

इस परिचर्चा में स्वदेशी कामधेनु गौशाला समिति के अध्यक्ष एवं भारतीय कृषक समाज के  हिमाचल प्रदेश से अध्यक्ष  राजेश डोगरा ने अतिथि के रुप में शिरकत की.किसानों को संबोधित करते हुए डोगरा ने बताया कि इस परिचर्चा का मुख्य लक्ष्य किसानों को केंद्र द्वारा संचालित विभिन्न प्रकार की कृषि संबंधित योजनाओं के बारे में  परिचय देना तथा  उन्हें योजनाओं का अधिक से अधिक फायदा लेने के तरीके बताना. 

डोगरा ने  अपने व्याख्यान में यह बताया कि आज किसान भाइयों को केंद्र सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी ना होने से वह लाभ उठाने से वंचित रह जाते हैं.  इसलिए उन्हें  नई नई योजनाओं की जानकारी रखना अत्यंत आवश्यक है. डोगरा ने कहा कि आज का समय तमाम चुनौतियों से भरा हुआ है. जलवायु परिवर्तन की काली छाया रोजाना बढ़ रहे प्रदूषण से और विकराल रूप धारण कर रहा है. इस दिशा में  प्रदूषण निवारण हेतु सबको मिलकर के काम करना चाहिए.आज जिस तरीके से वातावरण प्रदूषित हो रहा है और बीमारियां बढ़ती जा रही हैं, ऐसी परिस्थिति में सही समय पर एवं सही तरीके से  गौआधारित कृषि को बढ़ावा नहीं दिया गया तो इसका भयंकर परिणाम देखने को मिलेगा. 

इस  विषय पर चर्चा में आगे उन्होंने यह भी कहा कि गौआधारित कृषि  अपनाकर एवं रासायनिक खादों परित्याग कर खेती की आमदनी बढ़ाई जा सकती है. इससे सिर्फ स्वास्थ्य का उत्पादन ही नहीं होगा बल्कि हमारा पर्यावरण भी सुरक्षित होगा. उन्होंने यह आश्वासन दिया कि हिमाचल प्रदेश में किसानों के लिए हर संभव सहायता करने के लिए भारतीय कृषि समाज अपनी सेवाएं देगा. किसी को किसी भी क्षण किसी प्रकार की समस्या होने पर उसे तत्काल संपर्क करें और वह हर संभव सहायता करेंगे. 

इस मौके पर मुख्य अतिथि पुरुषोत्तम रूपाला , केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री ; विशिष्ट अतिथि जनरल डॉ वीके सिंह ,केंद्रीय सड़क परिवहन राज्य मार्ग मंत्री के साथ-साथ सांसद विजय पाल सिंह तोमर, सुरेंद्र सिंह नागर  सहित पूर्वी अध्यक्ष डॉक्टर कृष्ण वीर चौधरी एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे.

                                                   ****************